इश्क का भूत मेरे सर पे सवार है

हिंदी फ़िल्में > आशिक(१९९४) के गाने > इश्क का भूत मेरे सर पे सवार है

गाना: इश्क का भूत मेरे सर पे सवार है
फिल्म: आशिक(१९९४)
गायक:
गीत:
संगीत:


अरे (इश्क का भूत मेरे सर पे (सवार है -3) -2)
हा जो चढ़के कभी ना उतारे -2 यह ऐसा (बुखार है -3)
अरे इश्क का भूत मेरे सर पे (सवार है -3)

सुबह सबेरे उठकर यारोँ जुतो को चमकाओ - (2)
नीली शर्ट निकालू पर मैं लाल पहनकर जाऊ 
खुद से मैं बेगाना, इतना हूँ दीवाना - (2)
यह कैसा (खुमार है -3)
अरे (इश्क का भूत मेरे सर पे (सवार है -3) -2)
हा जो चढ़के कभी ना उतारे -2 यह ऐसा (बुखार है -3)

बस में भीड़ अगर हो तो मैं भागु बस के पीछे - (2) 
टाइम से पहले पहुंचू यारोँ उसके घर के निचे दिखता हूँ
कभी जोकर, लगता हूँ कभी लोफर - (2) 
मेरे नखरे हाय (हजार है -3) 
अरे (इश्क का भूत मेरे सर पे (सवार है -3) -2)
हा जो चढ़के कभी ना उतारे -2 यह ऐसा (बुखार है -3)

ओ मेरे यारोँ हा, मेरे प्यारो ओय होय 
ओ मेरे यारोँ ओ मेरे प्यारो, क्या उसको मेरे पास बुलाओ
मेरे दिल का हाल बताओ, बताओ, बताओ ... 
दिल में ऐसा जोश जगा है, कुछ भी मैं कर जाऊ - (2) 
अरे डब्लू डब्लू एफ के पहलवानो से लड़ जाऊ 
ऐसी आफत आयी जान के जान गवाई - (2) 
यह कैसा करार है, करार है, करार है 
अरे (इश्क का भूत मेरे सर पे (सवार है -3) -2)
हा जो चढ़के कभी ना उतारे -2 यह ऐसा (बुखार है -3)
अरे इश्क का भूत मेरे सर पे हाय