तू सामने जब आता है

हिंदी फ़िल्में > अंजाम के गाने > तू सामने जब आता है

गाना: तू सामने जब आता है
फिल्म: अंजाम
गायक: अलका याग्निक, उदित नारायण
गीत: समीर
संगीत: आनंद-मिलिंद


तू सामने जब आता है, दिल धक् से धड़क जाता है - (2)
सिने में आग सी जलती है, जलती है, जलती है ..... 
सिने में आग सी जलती है, कोई शोला भड़क जाता है 
तू सामने जब आता है ........

तेरी सांसो की गर्मी से, तन मेरा महके 
तेरे होंठो की नरमी से, मन मेरा बहके 
कैसी आंगन जगी साजन, जगी साजन 
कैसी आंगन, अंग अंग बहके 
तू सामने जब आती है ....

(तेरी जुल्फों का यह सावन रस बरसाए 
तेरी चाहत की यह खुशबू होश उडाए) - (2)
तेरी कसम, बहके कदम, बहके कदम, तेरी कसम 
बेखुदी सी छाये ...........

तू सामने जब आती है, इक दर्द जगा जाती है - (2)
बलखाके ऐसे चलती है, चलती है, चलती है .... 
बल खाकैसे चलती है, मेरी जान को तड़पती है 
तू सामने जब आता है, तू सामने जब आती है ....