फकीरा फकीरा

हिंदी फ़िल्में > बदमाश कंपनी के गाने > फकीरा फकीरा

गाना: फकीरा फकीरा
फिल्म: बदमाश कंपनी
गायक: राहत फ़तेह अली खान
गीत: अन्विता दत्त
संगीत: प्रीतम चक्रबोर्टी


(छानी जो ख़ाक तोह मिटके सोना तू बन गया
ग़मों की आग में टपके सूरज तू बन गया) - (२)
आज पाया है तुने सब खोके मुरिदा
मिली जन्नत तुझे तोह जब बिगाड़ा नसीबा
फकीरा फकीरा फकीरा...... फकीरा फकीरा आ आ आ....

हाथों से निकली मंजिल जब यह दामन छुट गया
ए बेखबर तू बेनूर होके रोशन हो गया
भरी यह खाली सी झोली जो तू भटका दर बदर
यह भी ना जाने यह काफिर की दुवा का है असर
जो तारे सा टुटा सब ख्वाइश मिलेगी
जरा हाथों को फैला मन्नते सब मिलेंगी
फकीरा फकीरा फकीरा...... फकीरा फकीरा आ आ आ ....

हुवा तबाह और हद से ज्यादा खोया जब करार
उडी उडी तब सासें जैसे उडाता है गुबार
सोचा करे किस पल में दिल को राहत है मिली
खुदा के घर में तालीम तुझको गिरके जब मिली
आज पाया है तुने सब खोके मुरिदा
मिली जन्नत तुझे तोह जब बिगाड़ा नसीबा
फकीरा फकीरा फकीरा...... फकीरा आ आ आ....