सागर पे आज मौजों का राज

हिंदी फ़िल्में > रंगोली (१९६१) के गाने > सागर पे आज मौजों का राज

गाना: सागर पे आज मौजों का राज
फिल्म: रंगोली (१९६१)
गायक: लता मंगेशकर
गीत: शैलेन्द्र
संगीत: शंकर -जयकिशन


(सागर पे आज मौजों का राज, बेचैन है नजारा 
शायद वोह आये -२ दिल ने जिन्हें पुकारा) - (२)
हे हे हे ...

(झूम झूम दे दे ताली नाचू मैं तोह मतवाली 
बस में नहीं मेरा दिल 
छुप छुप चोर इ चोरी रहे तेरी मेरी जोड़ी 
अब्ब तोह बेदर्दी मिल) - (२)
(सागर पे आज मौजों का राज, बेचैन है नजारा 
शायद वोह आये -२ दिल ने जिन्हें पुकारा) - (२)
ला ला ला ला .....

(सागर के किनारे जाऊ तुझको पुकारे जाऊ 
लहरों के संग डोलू 
मौजों से कहू के जाओ पिया को बुला लाओ 
जिनकी हों अब्ब हो लू) - (२) 
(सागर पे आज मौजों का राज, बेचैन है नजारा 
शायद वोह आये -२ दिल ने जिन्हें पुकारा) - (२)