हम तुम यह खोयी खोयी राहें

हिंदी फ़िल्में > रंगोली (१९६१) के गाने > हम तुम यह खोयी खोयी राहें

गाना: हम तुम यह खोयी खोयी राहें
फिल्म: रंगोली (१९६१)
गायक: लता मंगेशकर
गीत: शैलेन्द्र
संगीत: शंकर -जयकिशन


हम तुम येह खोयी खोयी राहें 
चंचल इशारों से बुलाये 
आजा तू आजा कझिन जाए, मौसम है प्यार का 
ले चल बहारों ने पुकारा है 
चंचल इशारों ने पुकारा है 
झूमते नजारों ने पुकारा है, मौसम है प्यार का 
हम तुम येह खोयी खोयी राहें 
चंचल इशारों से बुलाये 
आजा तू आजा कझिन जाए, मौसम है प्यार का 

दिल की हर एक धड़कन नगमा बनती जाए 
मेरा सपना मेरी बाहों में शर्माए 
ले चल बहारों ने पुकारा है 
चंचल इशारों ने पुकारा है 
झूमते नजारों ने पुकारा है, मौसम है प्यार का 
हम तुम येह खोयी खोयी राहें 
चंचल इशारों से बुलाये 
आजा तू आजा कझिन जाए, मौसम है प्यार का 

यूं ही चलते चलते हम ऐसे खो जाए 
जलने वाली आँखें हमको धुंद न पाए 
हम तुम येह खोयी खोयी राहें 
चंचल इशारों से बुलाये 
आजा तू आजा कझिन जाए, मौसम है प्यार का 
ले चल बहारों ने पुकारा है 
चंचल इशारों ने पुकारा है 
झूमते नजारों ने पुकारा है, मौसम है प्यार का 
हम तुम येह खोयी खोयी राहें 
चंचल इशारों से बुलाये 
आजा तू आजा कझिन जाए, मौसम है प्यार का