हम बेचारे प्यार के मारे

हिंदी फ़िल्में > रंगोली (१९६१) के गाने > हम बेचारे प्यार के मारे

गाना: हम बेचारे प्यार के मारे
फिल्म: रंगोली (१९६१)
गायक: किशोरे कुमार
गीत: शैलेन्द्र
संगीत: शंकर -जयकिशन


हम बेचारे प्यार के मारे 
और तुम तोह तुम हो वाह रे वाह रे 
लो डरते डरते बढ़ाते बढ़ाते तुम तक आ पहोंचे - (२)
हम बेचारे प्यार के मारे 
और तुम तोह तुम हो वाह रे वाह रे 
लो डरते डरते बढ़ाते बढ़ाते तुम तक आ पहोंचे 
डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग ......

बहकी निगाहें माशाह अल्लाह माशाह अल्लाह 
बाकी अदाए माशाह अल्लाह हो माशाह अल्लाह 
पलकों की गिरती उठती चिलमन 
तीर चलाये माशाह अल्लाह 
दिल का करार हो तुम, जाने बहार हो तुम 
करने को आये है नज़ारे 
हम बेचारे प्यार के मारे 
और तुम तोह तुम हो वाह रे वाह रे 
लो डरते डरते बढ़ाते बढ़ाते तुम तक आ पहोंचे 
डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग ......

चाल तुम्हारी सब से आला, बात तुम्हारी रस का प्याला 
अपना तोह हाल कुछ न पूछो, कैद हुवा है chaahanewaala 
जुल्फों के जाल में हम, तेरे ख़याल में हम 
उलझे है अरमान हमारे 
हम बेचारे प्यार के मारे 
और तुम तोह तुम हो वाह रे वाह रे 
लो डरते डरते बढ़ाते बढ़ाते तुम तक आ पहोंचे 
डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग ......

क्या है ख़याल कुछ तोह बोलो, दिल की जबान कुछ तोह खोलो 
तुमको कसम है मेरे दिल की, नैनो में आओ dil में दोलो 
हमने वोह काम किया, दुनिया में नाम किया 
कूड़े है घर में तुमारे 
हम बेचारे प्यार के मारे 
और तुम तोह तुम हो वाह रे वाह रे 
लो डरते डरते बढ़ाते बढ़ाते तुम तक आ पहोंचे 
डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग डिग ......