सारे शहर में एक हसीन है

हिंदी फ़िल्में > अलीबाबा और चालीस चोर के गाने > सारे शहर में एक हसीन है

गाना: सारे शहर में एक हसीन है
फिल्म: अलीबाबा और चालीस चोर
गायक: लता मंगेशकर, आशा भोसले
गीत: आनंद बक्षी
संगीत: आर. डी. बर्मन


सारे शहर में एक हसीन है, और ओ मै हु और कोई नहीं
तू ना इधर देख यार उधर देख
सारे शहर में एक हसीन है, और ओ मै हु और कोई नहीं

प्यार करेगा मुझसे अगर तू याद करेगा सारी उमर तू
फिर भी किसी का नाम ना लेगा यह तो मुझको यकीं है
सारे शहर में एक हसीन है, और ओ मै हु और कोई नहीं

सबकी निगाहें मुझ पे झुकी हैं तेरी निगाहें मुझपे रुकी हैं
देख जरा ऐसी अदा ऐसी नजर और कहा
मेरे सनम के पास ना जाना मेरा सनम है मेरा दीवाना
मै हु फलक और तू जमीं है
सारे शहर में एक हसीन है, और ओ मै हु और कोई नहीं