अखिया ना मार तौबा अखिया ना मार

हिंदी फ़िल्में > अपार्टमेन्ट(२०१०) के गाने > अखिया ना मार तौबा अखिया ना मार

गाना: अखिया ना मार तौबा अखिया ना मार
फिल्म: अपार्टमेन्ट(२०१०)
गायक: शिल्पा राव
गीत: सयेद गुलरेज़
संगीत: बप्पी लहिरी


यह कैसी रोशनी, यह कैसा जहां है 
जमीन पे मैं नाही, ना यह आसमान है 
दिल यूं ही बेवजह क्यूँ धड़कने लगा 
हाय मचलने लगा क्या हुवा 

क्या हुवा, हुवा, हुवा, हुवा वा वा वा....

(सारी दुनिया दीवानी है मैं क्या करूँ 
बड़ी जालिम जवानी है मैं क्या करूँ) - (2)
कोई कहे दिल मैं हारा, कोई कहे मैं हूँ तुम्हारा 
लैला है अकेली हाय मजनू हजार 
(अखिया ना मार तौबा अखिया ना मार 
अखिया ना मार दिल पे होगा सीधा वार) - (2)
बेबी लेट्स हवे द डान्स एंड रोमान्स 
लेट्स गिवे इट गिवे इट अ चांस ले ले जीने का मजा 

(नशे की रात है मजा आ रहा है 
मजे की रात है नशा छा रहा है) - (2)
कल की किसको खबर आज मनमानी कर 
क्यूँ रहे दिल में बेताबियाँ 
(अखिया ना मार तौबा अखिया ना मार 
अखिया ना मार दिल पे होगा सीधा वार) - (2)
बेबी लेट्स हवे द डान्स एंड रोमान्स 
लेट्स गिवे इट गिवे इट अ चांस ले ले जीने का मजा 
(जिसे मैं देख लूं ओ मेरा हुवा है 
ना दिन ना रात है यूं खोया हुवा है) - (2)
सारी दुनिया से ओ हो गया बेखबर 
मेरे जलवो में है ओ असर 
(अखिया ना मार तौबा अखिया ना मार 
अखिया ना मार दिल पे होगा सीधा वार) - (2)
बेबी लेट्स हवे द डान्स एंड रोमान्स 
लेट्स गिवे इट गिवे इट अ चांस ले ले जीने का मजा