घर दिल में दे दिया

हिंदी फ़िल्में > अपार्टमेन्ट(२०१०) के गाने > घर दिल में दे दिया

गाना: घर दिल में दे दिया
फिल्म: अपार्टमेन्ट(२०१०)
गायक: जावेद अली, श्रेया घोशाल
गीत: सयेद गुलरेज़
संगीत: बप्पी लहिरी


घर दिल में दे दिया, घर में भी दे दो जगह दिलबर 
बे दिलरुबा एहसान कर दो जरा 

हाँ यूं पल दो पल मिलना अच्छा लगता है मगर 
हर पल तुमको सहना आसान नहीं है मेहरबान 
ना रे ना ना रे ना तेरा दिल क्यूँ माने ना 
मैं क्या क्या करूँगा सुनके तो देखो जरा - (2)
धूम धूम तनानाना धूम धूम तनानाना ....

सुबह जब उठोगी जानम चाय भी मैं पिलाऊंगा 
अन्डो के साथ मैं तुमको करारे टोस्ट खिलाऊंगा 
कपडे तैयार करूँगा सैंडल भी पहनायुन्गा
घर भी मैं साफ़ करूँगा खाना भी पकायुन्गा 
ना रे ना ना रे ना मेरा दिल तेरी माने ना 
तुमने तो कह दिया अब्ब मुझसे सुन लो जरा - (2)
धूम धूम तनानाना धूम धूम तनानाना ....

सोफे पे चाद्दर ताने सोते ही रहोगे 
जुस्त गिवे में फाईव मिनुटेस मोरे कहते ही रहोगे 
शोवेर में जाके ऐसी तुम जंग मचाओगे 
चड्डी बनियान तुम वहीँ पर छोडके आओगे 
शाम को जो घर आयुंगी दिननेर क्या मिलेगा 
लुंगी में केला खाता इक बन्दर मिलेगा 
ना रे ना अरे जाना तेरा दिल क्यूँ माने ना 
इक पल क्या कहना हर पल ही होगा सुहाना - (2)

हे जाने जान यूं दिल ना तोड़ो 
बेवजह यूं मुह ना मोड़ो, मान जाओ ना 
हो मैं तो मानु दिल ना माने 
फिर क्या होगा अल्लाह जाने, तुम सताओ ना 
तुम आजमाके देखो, इक चान्स देके देखो 
बिन साथ रहे तुम कैसे कहोगे दिल माने ना 
हो रहा हो रहा चलो मैं ही कहती हूँ 
घर दिल में दे दिया घर में भी दूंगी जगह 
पर याद रखना इक ही मौका मिलेगा 
धूम धूम तनानाना धूम धूम तनानाना ....