ओ जाने जहां यूं रूठो ना मान लो

हिंदी फ़िल्में > अपार्टमेन्ट(२०१०) के गाने > ओ जाने जहां यूं रूठो ना मान लो

गाना: ओ जाने जहां यूं रूठो ना मान लो
फिल्म: अपार्टमेन्ट(२०१०)
गायक: शान, सुनिधि चौहान
गीत: सयेद गुलरेज़
संगीत: बप्पी लहिरी


ओ जाने जहां यूं रूठो ना, मान लो 
हो तड़पी मैं कैसी अपनी खता पे तुम जान लो 
सारा जहां सुना लगे, दिल ना लगे क्या करूँ 
यह मेरे नैन रहे बेचैन तेरे बिना जी ना सकू 
हो ओ ओ ... जाने जहां यूं रूठो ना, मान लो 

क्या कहूँ तेरे बिन कैसे बीतें यह दिन 
जैसे गुलशन हो सावन बिना 
मैंने सोचा ना था मैंने जाना ना था 
मैं अधूरी हूँ तेरे बिना 
सारा जहां सुना लगे दिल ना लगे क्या करूँ 
यह मेरे नैन रहे बेचैन तेरे बिना जी ना सकू 
ओ ओ ... जाने जहां यूं रूठो ना, मान लो 

हाँ दिल की बेताबियाँ कैसे समझाए हम 
बिन तुम्हारे कहाँ जाए हम 
मान जाओ सनम तुमको मेरी कसम 
अब्ब ना माने तो रो देंगे हम 
सारा जहां सुना लगे दिल ना लगे क्या करूँ 
यह मेरे नैन रहे बेचैन तेरे बिना जी ना सकू 
हो ओ ओ ... जाने जहां यूं रूठो ना, मान लो 
तड़पी मैं कैसी अपनी खता पे तुम जान लो 
सारा जहां सुना लगे, दिल ना लगे क्या करूँ 
यह मेरे नैन रहे बेचैन तेरे बिना जी ना सकू 
हो ओ ओ ... जाने जहां यूं रूठो ना, मान लो 
जाने जान जान .......