अकेला हूँ मैं हमसफ़र धुन्दता हूँ

हिंदी फ़िल्में > जाल (१९६७ ) के गाने > अकेला हूँ मैं हमसफ़र धुन्दता हूँ

गाना: अकेला हूँ मैं हमसफ़र धुन्दता हूँ
फिल्म: जाल (१९६७ )
गायक: मोहम्मद रफ़ी
गीत: रजा मेहदी अली खान
संगीत: लाक्स्मिकांत -प्यारेलाल


(अकेला हूँ मैं हमसफ़र धुन्दता हूँ 
मोहब्बत की मैं रहगुजर धुन्दता हूँ ) - (२ )
किसी ?? शामे सेहर धुन्दता हूँ 
अकेला हूँ मैं हमसफ़र धुन्दता हूँ 
मोहब्बत की मैं रहगुजर धुन्दता हूँ 

येह महकी हुयी रात कितनी हसीं है - (२ )
मगर मेरे पहलू में कोई नहीं है - (२ )
मोहब्बत भरी इक नजर धुदाता हूँ 
अकेला हूँ मैं हमसफ़र धुन्दता हूँ 
मोहब्बत की मैं रहगुजर धुन्दता हूँ 

मेरे दिल में आजा निगाहों में आजा - (२ ) 
मोहब्बत की रंगीन राहों में आजा - (२ )
तुझिको को मैं ओ बेखर धुन्दता हूँ 
अकेला हूँ मैं हमसफ़र धुन्दता हूँ 
मोहब्बत की मैं रहगुजर धुन्दता हूँ 

के डर जाऊ वीरान है मरी राहें - (२ )
किसीको ना अपना सकी मेरी आहें - (२ )
मैं आहोने में अपनी असर धुन्दता हूँ 
अकेला हूँ मैं हमसफ़र धुन्दता हूँ 
मोहब्बत की मैं रहगुजर धुन्दता हूँ 
किसी ?? शामे सेहर धुन्दता हूँ 
अकेला हूँ मैं हमसफ़र धुन्दता हूँ 
मोहब्बत की मैं रहगुजर धुन्दता हूँ