मुख्तसर

हिंदी फ़िल्में > तेरी मेरी कहानी के गाने > मुख्तसर

गाना: मुख्तसर
फिल्म: तेरी मेरी कहानी
गायक: वाजिद अली
गीत: प्रसुन जोशी
संगीत: साजिद अली, वाजिद अली


मुख्तसर मुलाकात है, अनकही कोई बात है 
फिर रात की शैतानियां, या अलग ये जजबात है 
मुख्तसर मुलाकात है, अनकही कोई बात है 
अनकही कोई बात है 
मुख्तसर मुलाकात है, अनकही कोई बात है 
फिर रात की शैतानियां, या अलग ये जजबात है 
मुख्तसर मुलाकात है, अनकही कोई बात है 

मौसम ये  कहता है, भीगे अंधेरो  में 
डुबकी लगातें हैं आ, पर मुझको लगता है
मैं रोक लूं खुदको, एहसास है ये  नया 
क्या हुआ .. मैं हूँ बेखबर, है नया सा सुहाना असर 
जीत है या मात है
मुख्तसर मुलाकात है, अनकही कोई बात है 

यह तो सुना था, के कुछ ऐसा होता है 
पर मुझको भी, हो गया 
मेरी तो दुनिया, बिलकुल अलग थी 
अंदाज़ वो, खो गया 
देखना डूबना हो गया 
डूबना तैरना हो गया 
क्या असर मेरे साथ है 
मुख्तसर मुलाकात है, अनकही कोई बात है 
फिर रात की शैतानियां, या अलग यह जजबात है