आँखों में क्या जी रुपहला बादल

हिंदी फ़िल्में > नौ दो ग्यारह के गाने > आँखों में क्या जी रुपहला बादल

गाना: आँखों में क्या जी रुपहला बादल
फिल्म: नौ दो ग्यारह
गायक: किशोरे कुमार, आशा भोसले
गीत: मजरूह सुल्तानपुरी
संगीत: एस डी बर्मन


आँखों मे क्या जी रुपहला बादल 
बादल मे क्या जी किसी का आँचल 
आँचल मे क्या जी अजब सी हलचल 

रंगी हैं मौसम तेरे दम की बहार हैं 
फिर भी हैं कुछ कम, बस तेरा इन्तजार हैं 
देखने मे भोले हो पर हो बड़े चंचल 

जुकती हैं पलकें, जुकने दो और जम के 
उड़ती हैं जुल्फे, उड़ने दो होंठ चूम के 
देखने मे भोले हो पर हो बड़े चंचल 

ज्झुमे लहराए, नैना मिल जाये नैन से 
साथी बन जाए, रास्ता कट जाए चैन से 
देखने मे भोले हो पर हो बड़े चंचल