गरज बरस सावन घिर आयो

हिंदी फ़िल्में > पाप के गाने > गरज बरस सावन घिर आयो

गाना: गरज बरस सावन घिर आयो
फिल्म: पाप
गायक: अली अजमत
गीत:
संगीत: अली अजमत , सबीर ज़फर


गरज बरस सावन घिर आयो - (२ )

गरज बरस सावन घिर आयो - (४ )
देखो कैसे अनजाने रास्तो पे बरसे घटा 
आओ ले ले मतवाली मस्तानी रुत का मजा 
गरज बरस सावन घिर आयो - (२ )

आ आ भी जा मेरी जान, आ भी जा 
चाहे तू जेहर दे, या जीने की दुआ 
कैसा येह नाता है, साँसों से साँसों का 
सुन तोह ले दे सदा भीगी भीगी फजा 

ये जिंदगी रंगों मे डूबेगी 
सुरमई शाम येह भूलेगी ना कभी 
कोई तोह बातें हो आँखों से आँखों की 
पया र की रोशनी जलती बुझती हुई 
गरज बरस सावन घिर आयो - (४ )
आओ धुन्द्हें मिल के खुशियों का लम्हा कोई 
सीने मे जो भड़के तोह भड़काए शोला कोई 
गरज बरस सावन घिर आयो