चाँदनी आसमान पे है नहीं

हिंदी फ़िल्में > मुस्कुराके देख ज़रा के गाने > चाँदनी आसमान पे है नहीं

गाना: चाँदनी आसमान पे है नहीं
फिल्म: मुस्कुराके देख ज़रा
गायक: सौरभ श्रीवास्तव
गीत: मेहबूब
संगीत: रंजित बारोट


चाँदनी आसमान पे है नहीं 
वोह तोह है यहीं कहीं खुशनसीबी हो ओ ओ ओ ....
पालकी चाँद की चली वहाँ 
आती है दुल्हन यहाँ खुशनसीबी 
वोह काल तक जो दूर थे, आज उनका ही नूर है 
रोशन हुयी दिल की जमीं हो ओ ओ ओ ....
चाँदनी आसमान पे है नहीं 
वोह तोह है यहीं कहीं खुशनसीबी 

नाजुक होंतो पे कातिल हसीं है, निगाहें है तीर सी 
सपनों में अदाएं शोलो सी है, तू है रंगों में रंगीन 
अब्ब रंग ले तू प्यार का, दिले दिलदार का 
शामो सेहर हो बेखुदी हो ओ ओ ओ ओ ....
चाँदनी आसमान पे है नहीं 
वोह तोह है यहीं कहीं खुशनसीबी 

खुशनसीबी 
तारीफों पे ऐसे भी ना शरमाओ, नज़ारे मिलाने भी दो 
परदे में हया के आँखों से तुम बातें होने भी दो 
अरे पहला येह प्यार है, प्यार का दीदार है 
तुमसे हुयी है आशिकी हो ओ ओ ओ ओ .....
चाँदनी आसमान पे है नहीं 
वोह तोह मेरे साथ है खुशनसीबी हो ओ ओ ओ ...
पालकी चाँद की चली वहाँ 
आती है दुल्हन यहाँ खुशनसीबी