इश्क के बदले जल्दी है

हिंदी फ़िल्में > हासिल के गाने > इश्क के बदले जल्दी है

गाना: इश्क के बदले जल्दी है
फिल्म: हासिल
गायक: शान, श्वेता पंडित, श्रद्धा पंडित
गीत:
संगीत:


इश्क के बदले जल्दी है 
सेहरा में लहारसी उठी है 
रात के बुझते तारों की 
आँखों में ज़हर सी दिखती है 

आँखों में तुम्हारी तो जहानों का नशा 
तुम जो नहीं तो क्या है जीना का मज़ा 
आँखों में तुम्हारी तो जहानों का नशा 
तुम जो नहीं तो क्या है जीना का मज़ा 
बाहों में ना तुम हो 
राहों में ना तुम हो 
तो जीना बेवजा 
आओ पास आओ 
यूह ना शरमाओ 
आय मेरे हुम्नावाज़ 
आँखों में तुम्हारी तो जहानों का नशा 
तुम जो नहीं तो क्या है जीना का मज़ा 

जबसे तुम्हे देखा मैंने 
है सपने जवान जवान 
तुमजो नहीं कुछ ना कहीं 
है तुम से ही येह जहाँ 
पास मेरे आजा 
स्ससों में समाज तू खुशबू की तरह 
दिल में तो हमारे 
यूह ना हो खुदा भी तुम्हारी है जगह 

तुझे चाँद का है अरमान सही 
हासिल करना आसान नहीं 
लाखों तारे पहरा ना दे 
ऐसी कोई रह नहीं 

पहली नज़र में ही सनम 
येह दिल तुमने लेलिया 
देखो मुझे भोले सही 
येह एहसान करदिया 
चंद्पे है मन है सितारों का पहरा 
मगर हम चलेंगे 
लुटे येह जहाँ भी 
लुटे आसमान भी 
ना तुम को छोड़ेंगे 

आँखों में तुम्हारी तो जहानों का नशा 
तुम जो नहीं तो क्या है जीना का मज़ा 
आँखों में तुम्हारी तो जहानों का नशा 
तुम जो नहीं तो क्या है जीना का मज़ा 
बाहों में ना तुम हो 
राहों में ना तुम हो 
तो जीना बेवजा 
आओ पास आओ 
यूह ना शरमाओ 
ए मेरे हुम्नावाज़