आयी अब्ब की साल दिवाली

हिंदी फ़िल्में > हकीकत के गाने > आयी अब्ब की साल दिवाली

गाना: आयी अब्ब की साल दिवाली
फिल्म: हकीकत
गायक: लता मंगेशकर
गीत: कैफ़ी आज़मी
संगीत: मदन मोहन


आयी अब्ब की सल दिवली मुन्ह पर अप्ने खुन मले
आयी अब्ब की सल दिवली
चरोन तरफ है घोर अन्धेर, घर मे कैसे दिप जले
आयी अब्ब की सल दिवली

बलक तर्से फुल्झदियो को, (दिपो को दिवरे -२)
मन्न की गोदी सुनी सुनी, (आङन कैसे सन्वरे -२)
रह मे उनकी जओ उजलोन बन मे जिनकी शम धले
आयी अब्ब की सल दिवली

जिन्के दम से जग्मग जग्मग (करती थी येह रते -२)
चोरी चोरी हो जती थी (मन से मन की बते -२)
छोद चले वोह घर मे अ्अवस्, ज्योती लेकर सथ चले
आयी अब्ब की सल दिवली

तप तप तप तप तप्के आन्सु, (छल्की खली थली -२)
जने क्य क्य सम्झती है (आन्खो की येह लली -२)
शोर मछ है आग लगी है कत्ते हैन पर्वत पे गले
आयी अब्ब की सल दिवली मुन्ह पर अप्ने खुन मले
चरोन तरफ है घोर अन्धेर घर मे कैसे दिप जले
आयी अब्ब की सल दिवली