आसमान को छूकर देखा

हिंदी फ़िल्में > हनुमान रिटर्न्स के गाने > आसमान को छूकर देखा

गाना: आसमान को छूकर देखा
फिल्म: हनुमान रिटर्न्स
गायक: दलेर मेहँदी
गीत:
संगीत: तापस रेलिया


(आस्मान को छुकर देख, तारोन कि गली सवारि
चान्द पर भि नाछे हुम्, कि तुफानो से यारि) - २

(आस्मान को छुकर देख, तारोन कि गली सवारि
चान्द पर भि नाछे हुम्, कि तुफानो से यारि) - २
क्य करून और क्य नहिन्, बात किसी से कही नहिन्
मौज मस्ती कि आदत मेरी बच्पन से गयी नहिन्

पागल्पन येह कैस है, ? ? जैस तैस है
सोच कि नजकत है, थोदी सि शरारत हैन्
तेध येह सामान क्युन्, आफत मेइन जान क्युन है
मच रहा बवाल क्युन है, उल्त येह दिमाग क्युन हैन्
(आस्मान को छुकर देख, तारोन कि गली सवारि
चान्द पर भि नाछे हुम्, कि तुफानो से यारि) - २

येह येह येह आन्ख मिचोलि, चोर दाकु भूथ कोह्लि
बुम बुम बजरङ बलि, महबली महबलि
खल्बली हि खल्बली देखो है हो चलि
ध्रती सागर तारे ? ? ? ? हि प्यार्
(आस्मान को छुकर देख, तारोन कि गली सवारि
चान्द पर भि नाछे हुम्, कि तुफानो से यारि) - २

क्य करून और क्य नहिन बात किसी से कहिन नहिन्
मौज मस्ती कि आदत मेरी बच्पन से गयी नहिन्

(आस्मान को छुकर देख, तारोन कि गली सवारि
चान्द पर भि नाछे हुम्, कि तुफानो से यारि) - २