मुझे कुछ कहना है

हिंदी फ़िल्में > बाबुल सुप्रियो , प्रीती -पिंकी के गाने > मुझे कुछ कहना है

गाना: मुझे कुछ कहना है
फिल्म: बाबुल सुप्रियो , प्रीती -पिंकी
गायक: अनु मालिक
गीत:
संगीत:


अंखियो ने रात क्या जादू किया, क्या जादू किया, क्या जादू किया - (२ )
(मैंने कोई जादू नहीं किया, तुही मेरे पिच्चे आया पिया - (२ )
अंखिया मिलके तूने दिल को चुराया, लुटा लुटा लुटा मेरा जिया ओह )-२ 
मैंने कोई जादू नहीं किया, तुही मेरे पिच्चे आया पिया 

मैंने कोई जादू नहीं किया, तुही मेरे पिच्चे आया पिया 
शोक हसीना खुशबु वाली, चाँद भी तुझ पे मरता 
इतनी हसीं हु चाँद बेचारा और भला क्या करता 
चाँद की बाते चाँद पे छोड़ो, अपनी बात बताओ 
बिन बोलो हर बात समाज लो, यूं न पहेली बुजाओ 
सोना सोना मैं हु सोना, इतना खेदो मेरी होना 
अंखिया मिलके तूने दिल को चुराया, लुटा लुटा लुटा मेरा जिया ओह 
मैंने कोई जादू नहीं किया, तुही मेरे पिच्चे आया पिया - (२ )
अंखियो ने रात क्या जादू किया, मैंने कोई जादू नहीं किया 
क्या जादू किया, क्या जादू किया 

मैंने कोई जादू नहीं किया, तुही मेरे पिच्चे आया पिया 
इस महफ़िल में मेरे दिल में, किसने आग लगायी 
आग लगाने वाली तुझे तद्पाने वाली, मुझको नजर न आई 
चम् चम् पायल क्यों बजती है, मुझको जरा समजा 
बात समाजनी है जो तुम को पास मेरे आजाओ 
चुना चुना बहिया गोरी, दिल तू दे दे चोरी चोरी 
अंखिया मिलके तूने दिल को चुराया, लुटा लुटा लुटा मेरा जिया ओह 
मैंने कोई जादू नहीं किया, तुही मेरे पिच्चे आया पिया - (२ )
अंखियो ने रात क्या जादू किया, मैंने कोई जादू नहीं किया 
क्या जादू किया, क्या जादू किया 
मैंने कोई जादू नहीं किया, तुही मेरे पिच्चे आया पिया - (२ ) 
अंखिया मिलके तूने दिल को चुराया, लुटा लुटा लुटा मेरा जिया ओह 
मैंने कोई जादू नहीं किया, तुही मेरे पिच्चे आया पिया - (२ )