हरे भरे बाग़ के

हिंदी फ़िल्में > ओमर खैय्याम के गाने > हरे भरे बाग़ के

गाना: हरे भरे बाग़ के
फिल्म: ओमर खैय्याम
गायक: के एल सैगल
गीत:
संगीत: लाल मोहोमेद


हरे भरे बाग़ के फूलो पे रिझा खैय्याम - (२)
हाँ 
तारो का शैदा हुआ - (२)
चाँद में खोया खैय्याम - (२)
हरे भरे बाग़ के फूलो पे रिझा खैय्याम 

प्यारी प्यारी सूरते - (२)
पहलू से दिल ले गयी - (२)
बन गया कुछ रोज में - (२)
हुस्न का बाँदा खैय्याम - (२)
हरे भरे बाग़ के फूलो पे रिझा खैय्याम 

लेकिन मुझे मालुम हुआ 
की यहाँ की हर चीज फनी है 

फनी चीज का - (२)
प्यार भी फनी - (२)
लहर येह दिल में आई 
छोड़ के आखिर सब कुछ मैंने, लौ मालिक से लगाई - (२) 

भूल गया हर चीज यहाँ की, (इश्के कूड़ा में खोया -२)
अल्ला हु के रंग में रंग कर - (२)
मसजिद दिल में बनाई - (२)

फनी चीज का प्यार भी फनी 

फिर तोह मेरी आँखों को 
जर्रे जर्रे में वोह ही वोह नजर आने लगा 

प्यार से मैंने कलियों को चूमा - (२)
बुल बुलो के तराने पे झुमा - (२)
हुस्न को उसका जलवा समझ कर 
में हसीनो के मजमें में घुमा 
मेरे दिल में समाया वोह ही वोह