मौला

हिंदी फ़िल्में > जिस्म २ के गाने > मौला

गाना: मौला
फिल्म: जिस्म २
गायक: अली अजमत
गीत: अर्को परावो मुख़र्जी, मुनीश मखीजा
संगीत: अर्को परावो मुख़र्जी


इश्क भी किया रे मौला
दर्द भी दिया रे मौला
ओ.. ओओ..
इश्क भी किया रे मौला
दर्द भी दिया रे मौला
यूँ तोह खुश रहा मगर कुछ रह गया बाकी
फक्र भी किया रे मौला
इल्म भी लिया रे मौला
ज़िन्दगी जिया मगर कुछ रह गया बाकी
तू नहीं दिखा रे मौला
सब नहीं बिका रे मौला
और जाहाँ रुका वहाँ पे
जाम है खाली
दूम तरम रा रा..

चाह की कमी में तू है
आँख की नमी में तू है
आस में तू, प्यास में तू
साँस में तू
तू बेवजह हँसीं तू है
जो दिखे उस्सी में तू है
अस्ख में तू, रस्ख में तू, जान में तू

इश्क भी किया रे मौला
दर्द भी दिया रे मौला
यूँ तोह खुश रहा मगर कुछ रह गया बाकी
फक्र भी किया रे मौला
इल्म भी लिया रे मौला
ज़िन्दगी जिया मगर कुछ रह गया बाकी
तू नहीं दिखा रे मौला
सब नहीं बिका रे मौला
और जाहाँ रुका वहाँ पे
जाम है खाली
दूम तरम रा रा..

जीस्त की सच्चाइयों से, रूह के गहराईयों से
रात की तनहाइयों से, तू गुज़र ज़रा
जीस्त की सच्चाइयों से, रूह के गहराईयों से
रात की तनहाइयों से, तू गुज़र ज़रा
दूम तरम रा रा..