बुल शीट

हिंदी फ़िल्में > खट्टा मीठा(२०१०) के गाने > बुल शीट

गाना: बुल शीट
फिल्म: खट्टा मीठा(२०१०)
गायक: शेहजाद रॉय
गीत: शेहजाद रॉय
संगीत: सहानी


मैं सिर्फ भाषण नही दूंगा, राशन भी दूंगा 
पिने का साफ़ पानी भी दूंगा, सड़को का जाल बिछा दूंगा 
कोई गरीब नही होगा, कोई फुटपाथ पे नही सोयेगा 
हिन्दिस्तान को चाँद पर पहुँचा दूंगा 
व्हाट ह्यापंन्ड, आय एम अलेर्जिक टु बुल शीट
बुल शीट बुल शीट बुल शीट
आय एम अलेर्जिक टु बुल शीट
बुल शीट बुल शीट
हे या जा हे आ जा
आय एम अलेर्जिक टु बुल शीट
हे या जा हे आ जा
आय एम अलेर्जिक टु बुल शीट
(मंत्री जी का भाषण, बुल शीट 
देगा सबको यह राशन, बुल शीट 
पियेंगे हम साफ़ पानी, बुल शीट 
बुल शीट, बुल शीट, बुल शीट ) - (2)
अपने हात दम है रे, अपनी लाथ मे दम है रे 
हम क्या किसी से कम है किसी से कम है रे 
(सुन बे मेरे देश के चांटे, रखे क्यूँ जेब को भारी 
चांस मिले तो पल में यारों बेच दे जनता सारी) - (2)

(बुजुर्गों ने मुझसे पुछा देश यह कैसे चलेगा 
पहले तो मैं कुछ न बोला, थोडा सोचा ) – (2)
बुजुर्गों ने मुझसे पुचा देश यह कैसे चलेगा 
बुजुर्गों से मैं यह बोला ... 
मुझे फिकर यह नही की यह देश कैसे चलेगा 
मुझे फिकर यह है के ऐसी ही न चलता रहे 
सुन बे मेरे देश के चांटे, रखे क्यूँ जेब को भारी 
चांस मिले तो पल में यारों बेच दे जनता सारी 
हे या जा हे आ जा
आय एम अलेर्जिक टु बुल शीट
हे या जा हे आ जा
आय एम अलेर्जिक टु बुल शीट

मुझसे बोले मंत्रीजी देश में है बोलने की 
पूरी पूरी हर किसी को फुल आझादी 
मंत्रीजी से मैं बोला ... 
यहाँ बोलने की आजादी तो है 
पर बोलने के बाद आजादी नाही है 
(सड़क और ब्रिज बनेंगे, बुल शीट 
ट्राफिक में नही फसेंगे, बुल शीट 
वक़्त पे काम होंगे, बुल शीट 
बुल शीट, बुल शीट, बुल शीट ) - (3)
अपने हात दम है रे, अपनी लाथ मे दम है रे 
हम क्या किसी से कम है किसी से कम है रे 
सुन बे मेरे देश के चांटे, रखे क्यूँ जेब को भारी 
चांस मिले तो पल में यारों बेच दे जनता सारी 

टीचकुले साहब जनता को जगाने का वक़्त आ गया है 
इनको मत जगाओ यह किसी जरुरी काम से सो रहे है