सजदे किए है लाखों लाखों दुवाये मांगी

हिंदी फ़िल्में > खट्टा मीठा(२०१०) के गाने > सजदे किए है लाखों लाखों दुवाये मांगी

गाना: सजदे किए है लाखों लाखों दुवाये मांगी
फिल्म: खट्टा मीठा(२०१०)
गायक: के.के, सुनिधि चौहान
गीत:
संगीत: प्रीतम चक्रबोर्टी


सजदे किए है लाखों लाखों दुवाये मांगी 
पाया है मैंने फिर तुझे 
चाहत की तेरी मैंने हक में हवाए मांगी 
पाया है मैंने फिर तुझे 
तुझसे ही दिल यह बेहला, तू जैसे कर्मा पहला 
चाहू ना फिर क्यूँ मैं तुझे 
जिस पल ना चाहा तुझको उस पल सजाये मांगी 
पाया है मैंने फिर तुझे 
सजदे किये है लाखों, लाखों दुवाये मांगी 
पाया है मैंने फिर तुझे 

जाने तू सारा वो, दिल में जो मेरे हो 
पढ़ ले तू आके हर दफा 
हो ओ ओ जाने तू सारा वो दिल में जो मेरे हो 
पढ़ ले तू आके हर दफा 
नखरें से नाजी भी होते है राजी भी 
तुझसे ही होते है खफा 
जाने तू बातें सारी कटती है रातें सारी
जलाते दिए से अन बुझे 
उठ उठके रातों को भी तेरी वफायें मांगी 
पाया है मैंने फिर तुझे 
सजदे किये है लाखों लाखों दुवाये मांगी 
पाया है मैंने फिर तुझे 

(चाहत के काजल से किस्मत के कागज़ पे 
अपनी वफायें लिख जरा ) – (2)
बोले ज़माना यूं, में तेरे जैसे हूँ 
तू भी तो मुझसा दिख जरा 
मेरा ही साया तू है, मुझमें समाया तू है 
हर पल यह लगता है मुझे 
खुद को मिटाया मैंने, तेरी बालाएं मांगी 
पाया है फिर मैंने तुझे 
चाहे तू चाहे मुझको, ऐसे अदाएं मांगी 
पाया है मैंने फिर तुझे