गिव मी सम सनशाइन

हिंदी फ़िल्में > ३ इडीयट (२००९) के गाने > गिव मी सम सनशाइन

गाना: गिव मी सम सनशाइन
फिल्म: ३ इडीयट (२००९)
गायक: शर्मन जोशी, सूरज जगन
गीत: स्वानंद किरकिरे
संगीत: शांतनु मोइत्रा


सारी उम्र हम मर मरके जी लिए
इक पल तोह अब्ब हमें जीने दो, जीने दो

(सारी उम्र हम मर मरके जी लिए 
इक पल तोह अब्ब हमें जीने दो, जीने दो) - (२)
ना ना ना ना ना ना ना  ......
(गिव मी सम सनशाइन, गिव मी सम रैन 
गिव मी अनादर चांस आय वान्ना ग्रो उप वंस अगेन) - (२)
कन्धों को किताबों के बोझ ने झुकाया 
रिश्वत देना तोह खुद पापा ने सिखाया 
९९ परसेंट मार्क्स लाओगे तोह घडी वरना छड़ी 
लिख लिखाकर पढ़ा हाथों पर  अल्फ़ा बेटा गम्मा का छाला 
कोंसनत्रेत  अच् तू एस ओ फोर ने पूरा , पूरा बचपन जला डाला 
(बचपन तोह गया जवानी भी गयी 
इक पल तोह अब्ब हमें जीने दो, जीने दो) - (२)


सारी उम्र् हम मर मरके जी लिए 
इक पल तोह अब्ब हमें जीने दो, जीने दो 
ना ना ना ना ना......
(गिव मी सम सनशाइन,गिव मी सम रैन
गिव मी अनादर चांस आय वान्ना ग्रो उप वंस अगेन) - (२)
ना ना ना ना ना ना ना.....