ज़िन्दगी से डरते हो

हिंदी फ़िल्में > पीपली लाइव के गाने > ज़िन्दगी से डरते हो

गाना: ज़िन्दगी से डरते हो
फिल्म: पीपली लाइव
गायक: इंडियन ओसान
गीत: नून मीम राशेद
संगीत: इंडियन ओसान


ज़िन्दगी से डरते हो, ज़िन्दगी से डरते हो - २ 
ज़िन्दगी तोह तुम भी हो 
ज़िन्दगी तोह तुम भी हो, ज़िन्दगी तोह हम भी हैं 
आदमी से डरते हो 
आदमी से डरते हो, आदमी तोह तुम भी हो 
आदमी तोह तुम भी हो, आदमी तोह हम भी हैं 
तुम अभी से डरते हो 

आदमी जुबां भी है, आदमी बयान भी है - २ 
हक और मानी के रिश्ते आये आहट से 
आदमी है बाबस्ता 
आदमी के दामन हाँ आदमी के दामन से 
ज़िन्दगी है बाबस्ता 
इस से तुम नहीं डरते हो 
इस से तुम नहीं डरते हो 
अनकही से डरते हो 
जो अभी नहीं आई उस कड़ी की आमत की 
आगही से डरते हो 
तुम अभी से डरते हो 

पहले भी तोह गुज़रे हैं - २ 
दौर नारसाई के, मेरे या खुदाई के 
फिर भी यह समझते हो 

पहले भी तो गुज़रे हैं 
दौर नारसाई के, मेरे या खुदाई के 
फिर भी ये समझते हो - २ 
यह चुरा आरज़ू मंदी, यह शबे सबा बंदी 
है रहे खुदा बंदी 
तुम येही समझते हो 
तुम अगर यह कया जानो 
लाभ मगर नहीं हिलते 
हाथ जगा उड़ते हैं 
हाथ बोले उड़ते हैं 
सुबह की आ जा बनके 

रौशनी से डरते हो 
रौशनी तोह तुम भी हो, रौशनी तोह हम भी हैं 
तुम अभी से डरते हो 
कुराहे शौक तुम्हे जैसे, रहे रों का खून लपके 
इक नया जूनून लपके 
कुराहे शौक तुम जैसे, रहे रों का खून लपके 
इक नया जूनून लपके 
मौत भी जलक उठे 
आदमी हस्से देखो 
शहर फिर बससे देखो 
तुम अभी से डरते हो - ४