जिंदगी इस तरह

हिंदी फ़िल्में > मर्डर के गाने > जिंदगी इस तरह

गाना: जिंदगी इस तरह
फिल्म: मर्डर
गायक: सोनू निगम
गीत: सईद कुँदरी
संगीत: अनु मालिक


अब्ब तलक सिर्फ तुझको देखा था 
आज तू क्या है येह भी जान लिया 
आज जब गौर से तुझे देखा 
हम गलत थे कहीं येह मान लिया - (२ )
तेरी हर भूल ने कहीं शायद 
हम भी शामिल है गुनाह गारो से 
अब्ब छुपाने को अपना कुछ ना रहा 
जख्म दिखने लगे दरारों से 
 
आ मेरे साथ मिलके हम फिर से 
अपने ख़्वाबों का घर बनाते है 
जो भी बिखरा है वोह समेटते है 
धुन्द्कर फिर ख़ुशी को लाते है - (२ )
बोझ तोह जिंदगी का कटता है 
एक दूजे के ही सहारों से 
जिंदगी इस तरह से लगने लगी 
रंग उद्द जाए जो दीवारों से 
अब्ब छुपाने को अपना कुछ ना रहा 
जख्म दिखने लगे दरारों से