जय बोलो शिव शंकर की जय

हिंदी फ़िल्में > आप की कसम के गाने > जय बोलो शिव शंकर की जय

गाना: जय बोलो शिव शंकर की जय
फिल्म: आप की कसम
गायक: किशोरे कुमार, लता मंगेशकर
गीत: आनंद बक्षी
संगीत: आर. डी. बर्मन


हे जय बोलो शिव शंकर की जय 
हे जय जय शिव शंकर कांटा लगे ना कंकर - 2
के प्याला तेरे नाम का पिया 
हो ओ ओ गिर जाऊंगी मैं मर जाऊंगी 
जो तुने मुझे ठाम ना लिया, ओ सौ रबड़ी 
हे जय जय शिव शंकर कांटा लगे ना कंकर 
के प्याला तेरे नाम का पिया 
हो ओ ओ गिर जाऊंगी मैं मर जाऊंगी 
जो तुने मुझे ठाम ना लिया, ओ सौ रबड़ी

एक के दो, ह्म्म्म, दो के चार, ह्म्म्म, मुझ को तो, ह्म्म्म, दीखते हैं 
ऐसा ही होता हे, जब दो दिल मिलते हे 
एक के दो, ह्म्म्म, दो के चार, ह्म्म्म, मुझ को तो, ह्म्म्म, दीखते हैं 
ऐसा ही होता हे, जब दो दिल मिलते हे 
सर पे ज़मीन पांव के नीचे हे आसमान हो (सौ रबड़ी - 4)
जय जय शिव शंकर कांटा लगे ना कंकर 
के प्याला तेरे नाम का पिया 
हो ओ ओ गिर जाऊंगी मैं मर जाऊंगी 
जो तुने मुझे ठाम ना लिया, ओ सौ रबड़ी 
ओ बंसी भैय्या ..हे हे हे ..
 
ओ मोरे राजा बड़े जतना से की चुने तेरी फुलवारी के री ..
 
कंधे पे, ह्म्म्म, सर रख के, ह्म्म्म, तुम मुझ को, ह्म्म्म, सोने दो 
मस्ती में, जो चाहे, हो जाये, हो ने दो 
कंधे पे, सर रख के, तुम मुझ को, सोने दो 
मस्ती में, जो चाहे, हो जाये, हो ने दो 
ऐसे में तुम हो गए हो बड़े बेईमान हो, (सौ रबड़ी - 4)
जय जय शिव शंकर कांटा लगे ना कंकर 
के प्याला तेरे नाम का पिया 
हो ओ ओ गिर जाऊंगी मैं मर जाऊंगी 
जो तुने मुझे ठाम ना लिया, ओ सौ रबड़ी 

रस्ते में, हम दोनो, घर कैसे जायेंगे 
घर वाले अब हमको खुद लेने आयेंगे 
रस्ते में, हम दोनो, घर कैसे जायेंगे 
घर वाले अब हमको खुद लेने आयेंगे 
कुछ भी हो लेकिन मज़ा आ गया मेरी जान हो (सौ रबड़ी - 4) 
जय जय शिव शंकर कांटा लगे ना कंकर 
के प्याला तेरे नाम का पिया 
हो ओ ओ गिर जाऊंगी मैं मर जाऊंगी 
जो तुने मुझे ठाम ना लिया, ओ सौ रबड़ी 

अरे बजाओ रे बजाओ ईमानदारी से बजाओ हे हे